Value Discovery Funds ने शॉर्ट और लांग टर्म में दिया 15-18% तक का रिटर्न, ICICI Pru वैल्यू डिस्कवरी शीर्ष पर

Value Discovery Funds 6 महीने की कम अवधि में इस स्कीम ने 18 फीसद तक का लाभ दिया है। जबकि 10 साल की लंबी अवधि में इसने करीबन 15 फीसद का लाभ दिया है। PC pixabay.com

manish mishra

September 16, 2020

Biz

Business

1 min

zeenews

नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। बात कम समय की हो या लंबे समय की, म्‍युचुअल फंड की वैल्यू डिस्कवरी स्कीम ने निवेशकों को बेहतर लाभ दिया है। 6 महीने की कम अवधि में इस स्कीम ने 18 फीसद तक का लाभ दिया है। जबकि 10 साल की लंबी अवधि में इसने करीबन 15 फीसद का लाभ दिया है। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल म्‍युचुअल फंड का वैल्यू डिस्कवरी फंड रिटर्न देने में शीर्ष स्‍थान पर रहा है।

आंकड़ों के मुताबिक 6 महीने की अवधि में (12 मार्च से 13 सितंबर 2020) आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल वैल्यू डिस्कवरी फंड ने 18.30 फीसद का रिटर्न दिया है। इसी अवधि में आदित्य बिड़ला सनलाइफ प्योर वैल्यू ने 11.19 फीसद, टाटा इक्विटी पीई ने 10.08 फीसद और एचडीएफसी कैपिटल बिल्डर वैल्यू फंड ने 9.39 फीसद का रिटर्न दिया है। इसी तरह निप्पोन इंडिया वैल्यू फंड ने 7.94 फीसद, एलएंडटी इंडिया वैल्यू ने 7.70 फीसद, यूटीआई वैल्यू ऑपोर्च्युनिटीज फंड ने 6.24 और आईडीएफसी स्टर्लिंग वैल्यू फंड ने 2.33 फीसद का रिटर्न दिया है। इसी अवधि में इसके बेंचमार्क निफ्टी 500 वैल्यू 50 टोटल रिटर्न इंडेक्स ने 15.89 फीसद का रिटर्न दिया है।

आंकड़ों से पता चलता है कि बेंचमार्क से ज्यादा रिटर्न केवल आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल ने दिया है। पीयर ग्रुप एवरेज की बात करें तो इसने 6 महीने में 9.24 फीसद का रिटर्न दिया है। इसी तरह 10 साल (12 सितंबर 2010 से 13 सितंबर 2020) की बात करें तो इसके वैल्यू फंड ने 14.62 फीसद का रिटर्न दिया है। जबकि एचडीएफसी कैपिटल बिल्डर वैल्यू फंड ने 8.91 फीसद का रिटर्न या है। निफ्टी बेंचमार्क 500 वैल्यू 50 ने महज 1.98 फीसद का रिटर्न दिया है।

इसी दस साल में आईडीएफसी वैल्यू फंड ने 8.32 फीसद का रिटर्न दिया है जबकि यूटीआई वैल्यू ने 8.73 फीसद का रिटर्न दिया है। एलएंडटी इंडिया वैल्यू ने 11.30 फीसद का जबकि निप्पोन इंडिया वैल्यू फंड ने 8.17 फीसद का रिटर्न निवेशकों को दिया है। टाटा इक्विटी पीई ने इस दौरान 10.26 फीसद का रिटर्न दिया है। आदित्य बिरला सन लाइफ के प्यूर वैल्यू फंड ने 9.24 फीसद का रिटर्न दिया है। पीयर ग्रुप एवरेज ने 9.72 फीसद का रिटर्न दिया है।

एक साल की अवधि की बात करें यानी 12 सितंबर 2019 से 13 सितंबर 2020 तक की अवधि में आईसीआईसीआई प्रडेंशियल वैल्यू ने 6.21 फीसद का रिटर्न दिया है। बिड़ला सन लाइफ के प्‍योर वैल्यू ने -1.62 फीसद, एचडीएफसी कैपिटल बिल्डर वैल्यू फंड ने -0.95 फीसद, आईडीएफसी स्टर्लिंग वैल्यू फंड ने -3.32 फीसद, निफ्टी 500 वैल्यू 50 टीआरआई ने -9.55 फीसद का घाटा दिया है। हालांकि टाटा इक्विटी पीई ने 2.80 फीसद, निप्पोन इंडिया वैल्यू ने 4.05 फीसद और एलएंडटी वैल्यू ने 3.73 फीसद का लाभ दिया है।

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल के वैल्यू फंड का लार्ज कैप में 80.63 फीसद एक्सपोजर है जबकि मिड कैप में 16.66 और स्माॅॅल कैप में महज 2.71 फीसद है। यह फंड फार्मा, सॉफ्टवेयर और टेलीकॉम में ओवरवेट है। बैंकिंग और फाइनेंशियल में अंडरवेट है। विश्लेषकों के मुताबिक निवेशकों को वैल्यू डिस्कवरी में निवेश करते समय यह बात ध्यान में रखनी चाहिए कि कौन सा फंड बेहतर प्रदर्शन कर रहा है। उन्हें निवेश सलाहकारों से सलाह लेकर निवेश करना चाहिए।

Related News

More Loader