US Elections 2020: चीन के साथ संतुलित संबंध चाहते हैं ट्रंप: पोंपियो

चीन को लेकर ट्रंप ने डेमोक्रेटिक राष्ट्रपति उम्मीदवार जो बिडेन पर तंज कसते हुए कहा था कि यदि बिडेन की जीत होती है तो बीजिंग हावी होगा वहीं विदेश मंत्री पोंपियो ने कहा है कि ट्रंप चीन के साथ बेहतर संबंध चाहते हैं।

monika minal

September 25, 2020

America

World

1 min

zeenews

वाशिंगटन, प्रेट्र। चीन के साथ तनावपूर्ण संबंधों के बीच विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने कहा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चीन के साथ बेहतर संबंध की चाहत रखते हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप  (Donald Trump) चीन के साथ संतुलित संबंध की चाहत रखते हैं जो स्पष्ट हो और एक देश दूसरे के प्रति दुश्मनी भरा व्यवहार न करे। यह जानकारी अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने दी। वर्ष 2018 में अमेरिका द्वारा चीन के साथ ट्रेड वार शुरू किए जाने के बाद से दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण संबंध हैं। राष्ट्रपति ट्रंप ने चीन से व्यापार घाटे को कम करने के लिए कहा था जो कि 2017 में 375.6 अरब अमेरिकी डॉलर था। कोविड-19 महामारी के बाद से चीन और अमेरिका के बीच संबंध और भी बिगड़ गए।  

बता दें कि इस साल के 3 नवंबर को राष्ट्रपति चुनाव होना है जिसके लिए रिपब्लिकन उम्मीदवार राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और डेमोक्रेटिक उम्मीदवार पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन के बीच टक्कर है। कुछ दिनों पहले ही ट्रंप ने बिडेन पर चीन का नाम लेकर हमला किया था। ट्रंप ने कहा था कि बिडेन की जीत के साथ चीन की जीत होगी।

कोरोना वायरस को ट्रंप ने कई बार ‘चीनी वायरस’ का नाम देकर बीजिंग पर निशाना साधा और महामारी पर कंट्रोल न कर पाने का आरोप लगाया है। हालांकि चीन इस आरोप से इनकार करता रहा है। विस्कोंसिन स्टेट कैपिटल में बुधवार को स्टेट सीनेटर रोगर रोथ के साथ बातचीत में पोंपियो ने कहा, ‘हमें मुख्य तौर पर हमारे पास जो पावर है उसका इस्तेमाल करना होगा और चीन के साथ हर मामले में उचित और पारस्परिक संबंधों की शुरुआत करनी होगी।

पिछले माह पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन को इजरायल से संबोधित करते हुए पोंपियो ने कहा था कि रिपब्लिकन पार्टी के शीर्ष नेताओं ने कोरोना संक्रमण से पहले अर्थव्यवस्था में नई जान फूंकने और चीन की आक्रामकता पर लगाम लगाने के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की तारीफ की है। सिर्फ ट्रंप ही चीन की हिंसक आक्रामकता पर लगाम लगा सकते हैं।

Related Topics

Related News

More Loader