Tiktok को मिला ट्रंप का साथ, Oracle और walmart की संभावित डील को दी मंजूरी

Oracle और Walmart की डील से एक नई अमेरिकी कंपनी बनेगी। इससे 25 हजार नौकरियां पैदा होंगी। साथ ही Tiktok अमेरिकी युवाओं की शिक्षा के लिए करीब 37 हजार करोड़ रुपये का अनुदान भी देगी।

saurabh verma

September 21, 2020

tech-news

Technology

1 min

zeenews

वाशिंगटन, पीटीआइ: अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने Tiktok के अमेरिकी कारोबार को लेकर Oracle और Walmart के बीच होने वाले प्रस्तावित सौदे को सैद्धांतिक मंजूरी प्रदान कर दी हैं। अगर यह सौदा परवान चढ़ता है तो इसके तहत ना केवल एक नई अमेरिकी कंपनी बनेगी, बल्कि 25,000 नई नौकरियां भी पैदा होंगी। सौदे के तहत Tiktok अमेरिकी युवाओं की शिक्षा के लिए पांच अरब अमेरिकी डॉलर (लगभग 37 हजार करोड़ रुपये) का अनुदान भी देगा। बता दें कि अमेरिका ने सुरक्षा कारणों के चलते Tiktok को प्रतिबंधित किए जाने वाले एप की सूची में रखा है। राष्ट्रपति ने शनिवार को व्हाइट हाउस में पत्रकारों से कहा, ‘मैं इस नए सौदे को शुभकामनाएं देता हूं। Tiktok पर काम चल रहा है। हम Oracle और Walmart के बीच करार कराना चाहते हैं। सुरक्षा का 100 प्रतिशत ध्यान रखा जाएगा। वे अलग-अलग क्लाउड (डाटा) का इस्तेमाल करेंगे। इसे बेहद मजबूत सुरक्षा प्रदान की जाएगी।

Tiktok और Wechat पर 15 सितंबर तक लगना था प्रतिबंध

बता दें कि पिछले माह ही ट्रंप ने एक एक्जीक्यूटिव आर्डर पर हस्ताक्षर किए थे, जिसमें कहा गया था कि अगर चीनी एप Tiktok और Wechat का मालिकाना अधिकार अमेरिका को नहीं दिया जाता है तो 15 सितंबर तक इन पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। ट्रंप ने शनिवार को कहा, ‘Tiktok अमेरिका में शिक्षा के लिए पांच अरब अमेरिकी डॉलर का अनुदान देगा। हम अमेरिकी युवाओं की शिक्षा के लिए एक विशाल कोष बनाने जा रहे है, जो एक अच्छा कदम साबित होगा। अगर यह सौदा होता है तो बहुत अच्छा और अगर नहीं होता है तो भी ठीक। हालांकि मुझे लगता है कि यह करार अमेरिका के लिए फायदेमंद साबित होगा।’ राष्ट्रपति ने कहा कि इस नई कंपनी का किसी बाहरी देश से कोई लेनादेना नहीं होगा। इसका चीन से भी कोई मतलब नहीं होगा। यह पूरी तरह से सुरक्षित होगा। चूंकि इस सौदे को चीन की सरकार की भी मंजूरी चाहिए, इसलिए ट्रंप ने यह भी कहा है कि हम देखेंगे कि ऐसा होता है या नहीं।

Tiktok ग्लोबल होगा नई कंपनी का नाम

नई कंपनी का नाम Tiktok Global होगा। इसका मुख्यालय संभवत: टेक्सास में होगा। Tiktok Global में Oracle की हिस्सेदारी 12.5 फीसद होगी और वह सभी यूजर का डाटा अपने पास सुरक्षित रखेगी। रिटेल कंपनी Walmart की टिकटॉक ग्लोबल में हिस्सेदारी 7.5 फीसद होगी। Oracle और walmart के मुताबिक Tiktok Global में ज्यादातर हिस्सेदारी अमेरिकी निवेशकों की होगी। दरअसल, टिकटॉक का मालिकाना हक रखने वाली चीनी कंपनी Bytedance की इस वीडियो शेयरिंग एप में लगभग 80 फीसद हिस्सेदारी है, लेकिन अमेरिकी निवेशकों (जनरल अटलांटिक, वेंचर कैपिटल फर्म सिकोइया कैपिटल और इंवेस्टमेंट मैनेजमेंट कंपनी कोएट) की Bytedance में 40 फीसद हिस्सेदारी है। इस तरह Oracle, Walmart और अमेरिकी निवेशकों की हिस्सेदारी प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तौर पर लगभग 53 फीसद होगी। माना जा रहा है कि करार के तहत Bytedance भी Tiktok में अपनी कुछ हिस्सेदारी बेचेगी। अगले साल इसमें और कमी आने की संभावना है।

यूजर डाटा की होगी 100 फीसदी सुरक्षा

Oracle ने कहा, यूजर के डाटा की 100 फीसद रहेगी. सुरक्षा सौदे के तहत Bytedance सोर्स कोड को तो अपने पास रख सकेगी, लेकिन समय-समय पर Oracle इसका निरीक्षण करेगी। Oracle की सीईओ सफर केट्ज ने कहा कि उनकी कंपनी यूजर को 100 फीसद सुरक्षित वातावरण प्रदान करेगी। अमेरिकी यूजर के डाटा की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाएगा। बता दें कि केट्ज वर्ष 2016 में ट्रंप की ट्रांजिशन टीम की सदस्य रही हैं। ओरेकल के सह संस्थापक और चेयरमैन लैरी एलिसन उन शीर्ष उद्यमियों में से हैं जो खुले तौर पर अमेरिकी राष्ट्रपति का समर्थन करते हैं। वहीं Tiktok की अंतरिम मुख्य कार्यकारी वेनेसा पप्पा ने एक वीडियो पोस्ट में कहा कि Tiktok अमेरिका में बना रहेगा।

जारी रहेगी टिकटॉक की डाउनलोडिंग

Tiktok और WeChat की डाउनलोडिंग की रविवार से डाउनलोडिंग रोकने के लिए वाणिज्य मंत्रालय ने शुक्रवार को एक आदेश जारी किया था। हालांकि सौदे की बातचीत सामने आने के बाद मंत्रालय ने इस पर एक सप्ताह तक रोक लगा दी है। कमिटी ऑन फारेन इंवेस्टमेंट इन द यूनाइटेड स्टेट्स (सीएफआइयूएस) और अमेरिकी सरकार का पैनल सौदे के संबंध में हो रही बातचीत की निगरानी करेगा और इसे मंजूरी प्रदान करेगा। अभी तक इस बात का पता नहीं चला है कि क्या यह फैसला वीचैट की डाउनलोडिंग पर भी लागू होगा।

.embed-container { position: relative; padding-bottom: 56.25%; height: 0; overflow: hidden; max-width: 100%; } .embed-container iframe, .embed-container object, .embed-container embed { position: absolute; top: 0; left: 0; width: 100%; height: 100%; }

 यह सौदा उचित नहीं

ग्लोबल टाइम्सचीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के आधिकारिक समाचार पत्र ग्लोबल टाइम्स की तरफ से इस सौदे पर पहली प्रतिक्रिया सामने आई है। ग्लोबल टाइम्स के एडिटर हू शीजिन ने कहा कि यह सौदा उचित नहीं है, लेकिन सबसे खराब स्थिति से अच्छा है। सबसे खराब स्थिति के तहत Tiktok को अपना अमेरिकी कारोबार बंद करना पड़ता या फिर किसी अमेरिकी कंपनी को बेचना पड़ता।

Related Topics

Related News

More Loader