ट्रंप बोले- जलवायु परिवर्तन की जानकारी उन्हें है, विज्ञान को नहीं

कैलिफोर्निया की जंगलों में लगी आग पर बातचीत हो रही थी तो ट्रंप बोले यह जल्दी ठंड़ा हो जाएगा। विज्ञान को इस बारे में जानकारी नहीं।

nitin arora

September 16, 2020

America

World

1 min

zeenews

वाशिंगटन, एएनआइ। संयुक्त राज्य के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जलवायु परिवर्तन के बारे में वैज्ञानिकों की टिप्पणियों पर संदेह व्यक्त किया है और भविष्यवाणी की है कि यह जल्द ही ‘कूलर’ यानी ठंडापन प्राप्त करेगा। यहां आपको बता दें कि आखिरकार बात यह हुई थी कि हिल ने वेड क्राउफुट, नेचुरल रिसोर्सेज के कैलिफोर्निया के सचिव के हवाले से कहा था, ‘हम वास्तव में जलवायु परिवर्तन और हमारे वनों के लिए इसका क्या अर्थ है, इसे पहचानने के लिए हम आपके साथ काम करना चाहते हैं। और वास्तव में उस विज्ञान के साथ मिलकर काम करते हैं। जो विज्ञान महत्वपूर्ण होने जा रहा है क्योंकि अगर हम उस विज्ञान को नजरअंदाज करते हैं और सोचते हैं कि यह सब वनस्पति प्रबंधन है, तो हम मिलकर एक साथ कैलिफोर्नियावासी को बचाने में सफल नहीं हो सकते।’

अब इस चिंता का जवाब देते हुए, ट्रंप ने कहा, ‘यह ठंडा होने लगेगा, आप बस देखते रहिए।’ क्राउफुट की बातों पर कहते हुए ट्रंप बोले-, ‘काश विज्ञान आपसे सहमत होता। इसपर आगे अमेरिकी राष्ट्रपति ने कह दिया कि मुझे नहीं लगता कि वास्तव में विज्ञान को इस बारे में जानकारी है। हिल ने आगे बताया कि कैलिफोर्निया के गवर्नर गेविन न्यूजॉम ने ट्रंप से इस मुद्दे पर उनकी राय को समझाने का आग्रह किया। न्यूजॉम ने कहा, ‘हम एक दूसरे को बहुत लंबे समय से जानते हैं और जैसा कि आप सुझाव देते हैं तो मैं इसे महत्व देता हूं। हम स्पष्ट रूप से महसूस कर रहे हैं कि बहुत गर्म और गर्म होता जा रहा है और सूखा और अधिक सूखता जा रहा है।’

इस बीच, ट्रंप ने कैलिफोर्निया और ओरेगन में जंगल की आग के लिए वन कुप्रबंधन को जिम्मेदार ठहराया है। बता दें कि कैलिफोर्निया के वानिकी और अग्नि सुरक्षा विभाग के हवाले से पुष्टि की कि कुल 22 लोग अब तक जंगल में मारे गए हैं। विभाग ने आगे बताया कि 4,100 से अधिक संरचनाएं नष्ट हो गई हैं और 16,750 से अधिक अग्निशामक पूरे कैलिफोर्निया में 29 जगह लगी भयंकर आग को काबू करने में लगे हैं।

Related News

More Loader