शिवसैनिकों की गुंडागर्दी के खिलाफ पूर्व सैन्य अधिकारियों का प्रदर्शन

प्रदर्शन में पूर्व अधिकारियों में एक एयर चीफ मार्शल तीन वाइस एडमिरल और पांच एयर मार्शल ने भी भाग लिया।

shashank pandey

September 15, 2020

National

1 min

zeenews

नई दिल्ली, प्रेट्र। मुंबई में शिवसैनिकों द्वारा नेवी के पूर्व अधिकारी मदन शर्मा के साथ की गई मारपीट के विरोध में यहां सैकड़ों पूर्व सैन्य अधिकारियों ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में पूर्व अधिकारियों में एक एयर चीफ मार्शल, तीन वाइस एडमिरल और पांच एयर मार्शल ने भी भाग लिया। सशस्त्र बलों के पूर्व अधिकारियों ने हमले की घटना को लेकर आश्चर्य जताया और कहा कि आरोपितों को जमानत दे दी गई जो जले पर नमक छिड़कने जैसा है।

उन्होंने एक बयान में कहा, यह अविश्वसनीय है कि मुंबई पुलिस की जांच के साथ-साथ महाराष्ट्र सरकार के अभियोजकों ने इस गंभीर मामले को इतने हल्के से लिया और इस मामले में न्याय की कोई झलक भी नहीं दिखाई देती है। उन्होंने कहा, शिवसेना के कार्यकर्ताओं द्वारा नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी मदन शर्मा के साथ मारपीट की घटना की पूरी तरह से निंदा की जाती है।

बयान में 600 से अधिक पूर्व सैन्यकर्मियों के हस्ताक्षर हैं जिनमें सेवानिवृत्त एयर चीफ मार्शल प्रदीप नाईक, वाइस एडमिरल शेखर सिन्हा, एआर कार्वे तथा जेएस बेदी, लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह और एयर मार्शल एसपी सिंह समेत कई वरिष्ठ अधिकारी शामिल हैं। उन्होंने कहा, हमें पूर्व सैन्यकíमयों की गरिमा, सम्मान और सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए।

ऐसा किसी के साथ हो सकता है- शिवसेना

मुंबई में सेवानिवृत्त नौसेना अधिकारी मदन शर्मा पर हुए हमले पर शिवसेना नेता संजय राउत ने रविवार को कहा कि महाराष्ट्र एक बड़ा राज्य है। ऐसा कुछ भी किसी के साथ भी हो सकता है। क्या आप जानते हैं कि यूपी में कितने पूर्व सैनिकों पर हमले हुए हैं? लेकिन, रक्षा मंत्री ने उन्हें फोन नहीं किया। हमारी सरकार का मानना है कि किसी भी निर्दोष व्यक्ति पर हमला नहीं किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आप जिस तरह से बात करते हो, कीचड़ उछालते हो और उसके बाद अगर लोगों के मन में गुस्सा पैदा होता है फिर आप उसे सरकार से क्यों जोड़ रहे हो। 

Related News

More Loader