कोरोना टेस्ट कराने के लिए अपने खिलाड़ियों से पैसे लेगा पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड, हैरान हुए सब

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने फैसला किया है कि जो खिलाड़ी या मैच अधिकारी नेशनल टी20 चैंपियनशिप में शामिल उसे पहला कोरोना टेस्ट अपने पैसों से कराना होगा।

vikash gaur

September 16, 2020

Cricket

Headlines

1 min

zeenews

कराची, पीटीआइ। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड यानी पीसीबी ने एक बड़ा ही हैरान करने वाला फैसला लिया है। पाकिस्तान में इस महीने के आखिर में नेशनल टी20 चैंपियनशिप की शुरुआत हो रही है। इस टी20 चैंपियनशिप में खेलने वाले खिलाड़ियों, मैच अधिकारियों और इससे जुड़े लोगों के कोविड 19 टेस्ट की प्रक्रिया से गुजरना होगा। हैरान करने वाली बात ये है कि पीसीबी ने 240 खिलाड़ियों, मैच अधिकारी और क्रिकेट से जुड़े लोगों से कोरोना टेस्ट के पैसे देने को कहा है।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने रावलपिंडी और मुल्तान में 30 सितंबर से शुरू होने वाले टूर्नामेंट(नेशनल टी20 चैंपियनशिप) में खेलने से पहले दो नेगेटिव कोविड-19 टेस्ट के बाद नेशनल इवेंट में उपस्थित होने वाले सभी को अनिवार्य कर दिया है। इसको लेकर पीसीबी ने कहा कि वह दूसरे कोविड -19 टेस्ट के लिए भुगतान करेगा, जबकि पहले कोरोना टेस्ट का भुगतान खुद खिलाड़ियों और अधिकारियों को करना होगा। पीसीबी से जुड़े सूत्र ने कहा, “खिलाड़ियों, अधिकारियों और हितधारकों का प्रारंभिक टेस्ट के लिए खुद से भुगतान करना होगा।”

पीसीबी ने किसी भी प्रयोगशाला या अस्पताल को निर्दिष्ट नहीं किया है जहां से खिलाड़ियों, अधिकारियों और हितधारकों को अपने प्रारंभिक टेस्ट करने होंगे। बोर्ड ने अपने खिलाड़ियों को अपने प्रबंधक या कोच को प्रारंभिक कोविड -19 रिपोर्ट प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। नेशनल टी20 चैंपियनशिप के बाद पाकिस्तान सुपर लीग यानी पीएसएल के बाकी बचे मैच होने हैं तो क्या पीसीबी विदेशी खिलाड़ियों से भी कोरोना टेस्ट की फीस का भुगतान कराएगी?

सूत्र ने कहा कि बोर्ड ने टूर्नामेंट को सुचारू रूप से सुनिश्चित करने के लिए दोनों स्थानों पर पहले से ही व्यापक जैव-सुरक्षित वातावरण बनाना शुरू कर दिया है। बता दें कि जब पाकिस्तान की टीम लगभग 42 लोगों के साथ इंग्लैंड दौरे पर गई थी, तब बोर्ड ने सभी कोविड-19 टेस्ट के लिए भुगतान किया था, खिलाड़ियों और टीम के अधिकारियों को ब्रिटेन जाने के लिए उड़ान भरने से पहले गुजरना पड़ा था।

Related News

More Loader