Bytedance कंपनी Oracle और Microsoft को नही बेचेगी Tiktok ऐप

Tiktok बिक्री की डील पूरी होने की खबर आयी थी। इसमें टेक्नोलॉजी कंपनी Oracle का नाम मुख्य पार्टनर के तौर पर आ रहा था।

saurabh verma

September 15, 2020

tech-news

Technology

1 min

zeenews

नई दिल्ली, रॉयटर्स. Tiktok की ओनर कंपनी ByteDance से Tiktok के अमेरिकी ऑपरेशन्स की बिक्री की खबर से इनकार किया है। Bytedance ने साफ किया कि कंपनी फिलहाल अपने अमेरिकी ऑपरेशन्स को  अमेरिकी कंपनी Microsoft और Oracle को नही बेचने जा रही है। चीन के स्टेट रन टीवी चैनल CGTN की रिपोर्ट से इसका खुलासा हुआ है। ऐसी रिपोर्ट हैं कि Bytedance ने चीन को खुश करने के लिए Oracle के साथ अपनी डील को रद्द कर दिया है। दरअसल Bytedance को उम्मीद है कि शायद कंपनी पर अमेरिका में लगा प्रतिबंध हट सकता है। बता दें कि अमेरिका सरकार के Tiktok बैन को Bytedance की तरफ से कोर्ट में चुनौती दी गई है। हालांकि डील रद्द होने से पहले Bytedacne लंबे वक्त से अमेरिकी ऑपरेशन्स की बिक्री के लिए Oracle और Microsoft कॉर्पोरेशन के साथ संपर्क में थी। 

डील रद्द होने से पहले का घटनाक्रम 

बता दें कि इससे पहले शार्ट वीडियो मेकिंग ऐप Tiktok के अमेरिकी ऑपरेशन्स की बिक्री की डील पूरी होने की खबर आई थी। Tiktok बिक्री की डील में टेक्नोलॉजी कंपनी Oracle मुख्य पार्टनर के तौर पर सामने आयी थी और इस तरह Microsoft की इस डील से छुट्टी होने की खबर थी। Microsoft ने खुद Tiktok की खरीदारी की डील से बाहर होने के बारे में सूचना दी थी। हालांकि अब चीन की तरफ से ऐसी कोई भी डील नही होने की सूचना दी गई है। लेकिन अभी भी Bytedance और Tiktok की तरफ से कोई बयान नही आया है।

Tiktok और Oracle के बीच डील पर आम सहमति बनी 

इससे पहले खबर थी कि Tiktok के अमेरिकी ऑपरेशन्स की बिक्री को लेकर अंतिम निर्णय लिया गया है। हालांकि अभी सरकार की तरफ से मंजूरी मिलना बाकी है। Oracle और  Bytedance के बीच Tiktok के अमेरिकी ऑपरेशन्स के प्रस्ताव पर आम सहमति बन गई है। लेकिन हिस्सेदारी को लेकर अभी भी बातचीत जारी है। प्रस्तावित डील में ByteDance के टॉप समर्थक जैसे इंवेस्टमेंट फर्म General Atlantic और Sequoia को भी कुछ हिस्सेदारी दी जा सकती है। हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति की तरफ से इस डील को मंजूरी मिलेगी या नही। इस बारे में फिलहाल कोई स्थिति स्पष्ट नही है। बता दें कि ट्रंप tiktok के अमेरिकी ऑपरेशन्स में ज्यादातर हिस्सेदारी अमेरिकी कंपनी की चाहते थे। ऐसे में क्या ट्रंप की तरफ से इस डील को मंजूरी दी जाएगी। इसे लेकर सस्पेंस बरकरार है।

सरकार से डील को मंजूरी मिलना बाकी 

गौरतलब है कि कमेटी ऑन फॉरेन इनवेस्टमेंट इन यूनाइटेड स्टेटड (CFIUS) एक सरकारी पैनल है, जो राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दों और डील की रिव्यू करता है। इसके बाद इसकी मंजूरी देता है। यह कमेटी ByteDance और Oracle डील मामले में भी निर्णय लेगी। ऐसे में कमेटी इस डील पर करीब से नजर बनाए होगी।ByteDance की तरफ से CFIUS के सामने डील की मंजूरी के लिए एक प्लान तैयार किया गया है, जिसमें चाइना बेस्ड कंपनी China Oceanwide holding Group की डील को बतौर मिसाल पेश किया जाएगा। दरअसल दो साल पहले चाइना ओशनवाइल्ड होल्डिंग्स ग्रुप की तरफ से अमेरिकी बीमा कंपनी General Financial को खरीदा गया था। उस वक्त अमेरिका की तरफ से अमेरिकी इंश्योरेंस होल्डर के डाटा को मैनेज करने के लिए लोकल कंपनी को थर्ड पार्टी साझीदार बनाने का लाया गया था। इसी तरह का प्रस्ताव Bytedance की तरफ से Oracle कंपनी के साथ डील में अमेरिकी CFIUS के सामने पेश किया जा सकता है और Oracle कंपनी को अमेरिकियों के डाटा मैनेजमेंट के लिए थर्ड पार्टी कंपनी के तौर पर शामिल किया जा सकता है। 

.embed-container { position: relative; padding-bottom: 56.25%; height: 0; overflow: hidden; max-width: 100%; } .embed-container iframe, .embed-container object, .embed-container embed { position: absolute; top: 0; left: 0; width: 100%; height: 100%; }

ट्रंप समर्थन हैं Larry Ellison 

बता दें कि Oracle के चेयरमैन Larry Ellison को ट्रंप का समर्थन माना जाता है। फर्म डाटा संभालने और सुरक्षित रखने में काफी अहम है। लेकिन फिलहाल Oracle के पास सोशल मीडिया का एक्सपीरिएंस नही है। Oracle के क्लाइंट कंपनियां है न कि यूजर्स। TikTok के यूजर्स का डाटा मौजूदा वक्त में Google ओनर Alphabet Inc के क्लाउड पर स्टरो होता है।

Related Topics

Related News

More Loader