17 साल पहले लिया था रिटायरमेंट, आज भी हवा में उछलकर कैच पकड़ लेता है ये दिग्गज

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को छोड़े 17 साल हो गए हैं लेकिन साउथ अफ्रीकाई दिग्गज जोंटी रोड्स आज भी हवा में उछलकर कैच पकड़ लेते हैं।

vikash gaur

September 16, 2020

Cricket

Headlines

1 min

zeenews

नई दिल्ली, जेएनएन। जैसे सचिन तेंदुलकर और सर डॉन ब्रैडमैन सर्वकालिक महान बल्लेबाजों में चुने जाते हैं। मुथैया मुरलीधरन और शेन वार्न सर्वकालिक महान गेंदबाजों में चुने जाते हैं। वैसे ही साउथ अफ्रीकाई दिग्गज जोंटी रोड्स (Jonty Rhodes) को सर्वकालिक महान फील्डर्स में चुना जाता है। 51 वर्षीय जोंटी रोड्स में कैच पकड़ने, रन आउट करने और डाइव लगाकर शानदार फील्डिंग करने की अद्भुत प्रतिभा थी।

जोंटी रोड्स ने इंटरनेशनल क्रिकेट को 17 साल पहले अलविदा कह दिया था और बीते कई सालों से वे लीग क्रिकेट और इंटरनेशनल क्रिकेट में बतौर फील्डिंग कोच अपना अनुभव बांट रहे हैं। यहां तक कि वे फील्डिंग कोच के तौर पर अपनी टीम के सामने ऐसा उदाहरण पेश करते हैं कि युवा खिलाड़ी भी शर्म से पानी-पानी हो जाएं। मौजूदा समय में जोंटी रोड्स इंडियन प्रीमियर लीग यानी आइपीएल की फ्रेंचाइजी किंग्स इलेवन पंजाब के साथ जुड़े हुए हैं।

IPL 2020 के लिए जोंटी रोड्स KXIP को फील्डिंग की प्रैक्टिस करा रहे हैं। वह सिर्फ फील्डर्स को निर्देश ही नहीं देते, बल्कि खुद मैदान पर उतरते हैं और अपनी प्रतिभा को दिखाते हैं कि कैसे कैच पकड़ सकते हैं। जोंटी रोड्स को हवा में उछलकर एक हाथ से कैच लेते हुए क्रिकेट प्रेमियों ने करीब दो दशक पहले देखा होगा, लेकिन उनकी ये फुर्ती आज भी बतौर कोच नजर आ रही है, जिसका वीडियो किंग्स इलेवन पंजाब ने ट्विटर पर शेयर किया है।

इतना ही नहीं, इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल यानी आइसीसी ने भी जोंटी रोड्स के वीडियो को रिट्वीट करते हुए लिखा है कि उन्होंने 17 साल पहले अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था, लेकिन जोंटी रोड्स आज भी कैच पकड़ने में माहिर हैं। जोंटी रोड्स के करियर की बात करें तो उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 34 कैच और वनडे क्रिकेट में 105 कैच पकड़े हैं। इनमें से दर्जनों ऐसे कैच हैं, जिनको जोंटी रोड्स ने असंभव से संभव बनाया है।

Related Topics

Related News

More Loader