‘तांडव’ को लेकर हुए विवाद के बाद चिंतित थे : ‘द फैमिली मैन’ के सह-निर्देशक सुपर्ण वर्मा

वेब-सीरिज ‘द फैमिली मैन’ के सह-निर्देशक सुपर्ण वर्मा ने कहा कि ‘अमेजन प्राइम वीडियो’ की सीरिज ‘तांडव’ को लेकर हुए विवाद के बाद वह इस बात को लेकर चिंतित थे कि दर्शकों को उनकी सीरिज कैसी लगेगी। राज निदीमोरू और कृष्णा डीके की यह वेब-सीरिज ‘द फैमिली मैन’ चार जून से ‘अमेजन प्राइम’ पर प्रसारित […]

dainiksaveratimes

June 11, 2021

Entertainment

1 min

zeenews

वेब-सीरिज ‘द फैमिली मैन’ के सह-निर्देशक सुपर्ण वर्मा ने कहा कि ‘अमेजन प्राइम वीडियो’ की सीरिज ‘तांडव’ को लेकर हुए विवाद के बाद वह इस बात को लेकर चिंतित थे कि दर्शकों को उनकी सीरिज कैसी लगेगी। राज निदीमोरू और कृष्णा डीके की यह वेब-सीरिज ‘द फैमिली मैन’ चार जून से ‘अमेजन प्राइम’ पर प्रसारित की जा रही है। सीरिज की समीक्षकों और दर्शकों दोनों ने सराहना की है। मनोज बाजपेयी अभिनीत सीरिज को पहले फरवरी में रिलीज होना था, लेकिन वेब सीरिज ‘तांडव’ को लेकर हुए विवाद के बाद इसकी रिलीज आगे बढ़ा दी गई थी।
सैफ अली खान अभिनित ‘तांडव’ के निर्माताओं पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगा था और इसके खिलाफ कई प्राथमिकी भी दर्ज की गई थी। वर्मा ने कहा, ‘‘ ‘तांडव’ के साथ जो हुआ, उससे हम चिंतित हो गए थे। यह आम चिंता थी, जो केवल हमें नहीं बल्कि हर शो को लेकर हो सकती है, जिस पर आप काम कर रहे हैं। यह आपकों सोचने पर मजबूर कर देता है कि किसे क्या बुरा लग जाए और आपको इसका कोई अंदाजा भी नहीं होता क्योंकि किसी को भी कुछ भी बुरा लग सकता है।’’
 उन्होंने कहा, ‘‘ हमने अपने शो पर गौर किया, हमें पता था कि हम क्या कर रहे हैं, हमने कुछ भी किसी को प्रभावित करने के लिए नहीं किया, यह सब शो का अभिन्न हिस्सा था। लेकिन इसे किस तरह लिया जाएगा हमें इस बात की भी चिंता थी।’’ वर्मा ने यह बयान बृहस्पतिवार रात ‘एमएलवायएक्स बैकस्टेज’ पर मीडिया और प्रशंसकों के साथ बातचीत के दौरान दिया ‘एमएलवायएक्स बैकस्टेज’ अडिया आधरित एक सोशल मीडिया एप है।
लेखक एवं निर्देशक ने कहा, ‘‘ हम कहानी विवाद खड़ा करने के लिए नहीं लिख रहे थे। यह आखिरी चीज होगी जो हम करना चाहेंगे। हम चाहते थे कि शो शांतिपूर्ण तरीके से रिलीज हो और दर्शक इसका लुत्फ उठाएं।’’ सीरिज की रिलिज आगे बढ़ाने के बाद भी यह विवादों से बच नहीं पाई थी। राज्यसभा सांसद एवं एमडीएमके के नेता वायको ने भी केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर और इसकी रिलीज पर रोक लगाने की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि सीरीज में तमिल समुदाय के लोगों को नकारात्मक तरीके से दिखाया जा रहा है। नाम तमिलर काची (एनटीके) के संस्थापक सीमान ने भी इस पर प्रतिबंध लगाए जाने की मांग की थी। 

Related News

More Loader