Umesh Yadav और Mohammed Siraj ने किया दमदार प्रदर्शन, टेस्ट मैच से पहले टीम मैनेजमेंट की बढ़ी टेंशन

नई दिल्लीः भारत और काउंटी सिलेक्ट इलेवन के बीच खेले जा रहे 3 दिवसीय प्रैक्टिस मैच में एक बार भारतीय मैनेजमेंट की टेंशन बढ़ गई है। दरअसल, इस बार भारतीय खिलाड़ियों के शानदार प्रदर्शन के कारण मैनेजमेंट की टेंशन बढ़ी है। भारत की ओर से उमेश यादव और मोहम्मद सिराज ने काउंटी सिलेक्ट इलेवन के […]

dainiksaveratimes

July 22, 2021

Sports

1 min

zeenews

नई दिल्लीः भारत और काउंटी सिलेक्ट इलेवन के बीच खेले जा रहे 3 दिवसीय प्रैक्टिस मैच में एक बार भारतीय मैनेजमेंट की टेंशन बढ़ गई है। दरअसल, इस बार भारतीय खिलाड़ियों के शानदार प्रदर्शन के कारण मैनेजमेंट की टेंशन बढ़ी है। भारत की ओर से उमेश यादव और मोहम्मद सिराज ने काउंटी सिलेक्ट इलेवन के खिलाफ अभ्यास मैच में शानदार प्रदर्शन करके दिखाया है। मैच के दूसरे दिन सिराज ने 2 तो उमेश ने तीन विकेट अपने नाम किए। उमेश खासतौर पर बेहतरीन लय में नजर आए और उन्होंने विपक्षी टीम के कप्तान को क्लीन बोल्ड किया। उमेश-सिराज ने घातक गेंदबाजी करके इंग्लैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच के लिए अपनी दावेदारी पेश कर दी है। कप्तान विराट कोहली और हेड कोच रवि शास्त्री के लिए इन दोनों गेंदबाजों के प्रदर्शन को नजरअंदाज करना कतई आसान नहीं होगा। मोहम्मद सिराज और उमेश यादव की शानदार गेंदबाजी के आगे काउंटी सिलेक्ट इलेवन की टीम ताश के पत्तों की तरह बिखर गई और दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक टीम ने 9 विकेट खोकर 220 रन बना लिए हैं।  

4 अगस्त से इंग्लैंड के खिलाफ शुरू हो रही टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम किस पेस अटैक के साथ मैदान पर उतरेगी अभी यह तय नहीं है। माना जा रहा है कि टीम ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह की तिकड़ी पर कम से कम पहले टेस्ट मैच में भरोसा दिखा सकती है। लेकिन प्रैक्टिस मुकाबले में उमेश और सिराज की जबरदस्त गेंदबाजी ने टीम मैनेजमेंट को मुश्लिक में डाल दिया है। डब्ल्यूटीसी फाइनल में भी भारतीय टीम ने उमेश-सिराज को मौका नहीं दिया था। जसप्रीत बुमराह की हालिया फॉर्म भी टीम के लिए चिंता का विषय जरूर है। काउंटी टीम के खिलाफ जारी प्रैक्टिस मैच में भी बुमराह महज एक ही विकेट अपने नाम कर सके हैं। वहीं, डब्ल्यूटीसी फाइनल में भी बुमराह अपनी लाइन लेंथ से भटके हुए ही नजर आए थे। 
ऐसे में बड़ा सवाल है कि क्या टीम मैनेजमेंट बुमराह के विदेशी सरजमीं पर पिछले रिकॉर्ड को देखते हुए उनको प्लेइंग इलेवन में जगह देगी या फिर हालिया फॉर्म पर गौर करते हुए उनकी जगह पर मोहम्मद सिराज या उमेश यादव को आजमाएगी। सिराज का प्रदर्शन ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भी शानदार रहा था और वह लगातार अपनी काबिलियित का नमूना पेश करते रहे हैं। वहीं, उमेश जिस कदर की लय में प्रैक्टिस मैच अबतक दिखे हैं उसके बाद देखना दिलचस्प होगा कि क्या कप्तान कोहली इस गेंदबाज के नाम पर विचार करते हैं या नहीं। हालांकि, अगर पहले टेस्ट मैच में भारतीय टीम चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरना का फैसला करता है तो उमेश के मुकाबले सिराज का दावा ज्यादा मजबूत दिखाई देता है। 

Related Topics

Related News

More Loader