इसलिए आते हैं प्रेगनेंसी में चक्कर, जानिए इससे बचने के तरीके

गर्भावस्था के समय महिलाओं को बहुत सी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। महिलाओं को इस समय खास ध्यान रखने की आवश्यकता होती है। वैसे तो गर्भावस्था के समय बहुत सी परेशानियां होती हैं लेकिन उन में सबसे मुख्य समस्या चक्कर आना होती है। चक्कर आने की समस्या कइयों को कुछ महीने आती है। चक्कर […]

dainiksaveratimes

July 21, 2021

Lifestyle

1 min

zeenews

गर्भावस्था के समय महिलाओं को बहुत सी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। महिलाओं को इस समय खास ध्यान रखने की आवश्यकता होती है। वैसे तो गर्भावस्था के समय बहुत सी परेशानियां होती हैं लेकिन उन में सबसे मुख्य समस्या चक्कर आना होती है। चक्कर आने की समस्या कइयों को कुछ महीने आती है। चक्कर आने के कई कारण हो सकते हैं। आज हम आपको इनसे बचने के कुछ उपाय बताएंगे –

चक्कर आने के कारण-
रक्‍त वाहिकाओं पर दबाव पड़ना: प्रेगनेंसी के पहली तिमाही यानि पहले 3 महीने तक चक्कर आने एक आम माना जाता है। मगर बढ़ते गर्भाशय की रक्‍त वाहिकाओं पर दबाव पड़ने से प्रेगनेंसी की दूसरी व तीसरी तिमाही में भी यह समस्या हो सकती है।
प्रोजेस्टेरोन नामक हार्मोन के वजह:शरीर में प्रोजेस्टेरोन नामक हार्मोन के कारण रक्त कोशिकाएं शिथिल यानि ढीली होने लगती है। इसके कारण खून का प्रवाह शरीर में नीचे की तरह बढ़ने लगता है। इसके कारण महिलाओं को चक्कर आने की परेशानी झेलनी पड़ सकती है।
ब्लड प्रेशर कम होना: अक्सर  प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं का ब्लड प्रेशर लेवल कम हो जाता है। इसके कारण यह समस्या हो सकती है।
ब्लड शुगर कम होना: ब्लड प्रेशर की तरह शरीर का ब्लड शुगर स्तर कम होने पर चक्कर आने की समस्या हो सकती है।
बैठने की पोजीशन अचानक से बदलना: घंटों एक जगह बैठने के बाद अचानक पोजिशन बदलने से चक्कर आ सकते हैं।
खाने में पोषक तत्वों की कमी: खाने में पोषक तत्वों की कमी होने से भी एनर्जी कम हो जाती है। ऐसे में चक्कर आने की परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए डेली डाइट में आयरन, फाइबर, प्रोटीन आदि पोषक तत्व व एंटी-ऑक्सीडेंट्स से भरपूर चीजें खाएं।
ऐसे करें बचाव…
घंटों खड़े ना रहे: इस अवस्था में शरीर कमजोर होता है। ऐसे में इस दौरान लंबे समय खड़े होने से बचें। आप समय-समय पर कुछ देर के लिए टहल सकती है।
अचानक पोजीशन ना बदले: जैसे कि कारणों में बताया गया है कि घंटों एक ही पोजीशन में बैठने के बाद अचानक उठने से चक्कर आ सकते हैं। इसलिए लंबे समय तक एक ही पोजीशन में ना बैठे। इसके अलावा जल्दबाजी की जगह पर धीरे व आराम से खड़े हो। आप खड़े होने के लिए किसी का सहारा भी ले सकती है।
दिनभर थोड़े-थोडे़ अंतराल में खाना खाएं: एक बार में भरपेट खाने की जगह पर दिनभर थोड़े-थोडे़ अंतराल में खाना खाएं। इससे शरीर में शुगर का स्तर कंट्रोल रहेगा।
सही मात्रा में पानी पीएं: शरीर में पानी की कमी ना होने दें। आप इसकी कमी पूरी करने के लिए पानी से भरपूर फलों का भी सेवन कर सकती है।
डाइट पर ध्यान दें: इस दौरान कुछ भी खाने की गलती ना करें। डेली डाइट में हरी व पत्तेदार सब्जियां, फल, अनाज, डेयरी प्रोडक्ट्स, सूखे मेवे आदि शामिल करें। इससे आपका पेट अच्छे से भरने के साथ इम्यूनिटी बढ़ने में मदद मिलेगी।
ठंडे पानी से नहाएं: चक्कर आने के कारण सिर में दर्द भी होने लगता है। ऐसे में इससे आराम पाने के लिए आप ठंडे पानी से नहा सकती है।
ध्यान रखें: इन टिप्स को फॉलो करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Related News

More Loader