कोरोना के खिलाफ लड़ाई में Samsung 50 लाख डॉलर देगा, Paytm आक्सीजन संयंत्र लगायेगा

नई दिल्ली: प्रौद्योगिकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी सैमसंग ने मंगलवार को कहा कि वह देश में कोरोना संक्रमण के खिलाफ जारी लड़ाई को मजबूती प्रदान करने के लिए 50 लाख डॉलर यानी 37 करोड़ रुपये की सहायता करेगा। वहीं, पेटीएम ने कहा है कि वह कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में वह भारत सरकार को […]

dainiksaveratimes

May 4, 2021

Business

1 min

zeenews

नई दिल्ली: प्रौद्योगिकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनी सैमसंग ने मंगलवार को कहा कि वह देश में कोरोना संक्रमण के खिलाफ जारी लड़ाई को मजबूती प्रदान करने के लिए 50 लाख डॉलर यानी 37 करोड़ रुपये की सहायता करेगा। वहीं, पेटीएम ने कहा है कि वह कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में वह भारत सरकार को मदद करते हुये 12 से 13 शहरों में आक्सीजन संयंत्र लगायेगा। 

सैमसंग ने एक बयान में कहा कि वह केंद्र और उत्तर प्रदेश तथा तमिलनाडु सरकार को तीस लाख डॉलर की मदद करेगा। वह बीस लाख डॉलर की चिकित्सा सामग्री भी देगा जिसमे 100 ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर, तीन हजार ऑक्सीजन सिलेंडर और दस लाख एलडीएस सिरिंज शामिल हैं। 

उसने कहा कि एलडीएस सिरिंज इंजेक्शन में भरे जाने वाली दवा की बर्बादी का कम करने में काम आता है। इस  सिरिंज  से वैक्सीन की डोज की बर्बादी भी कम होगी। सैमसंग ने इन सिरिंज के निर्माता को उत्पादन क्षमता बढ़ाने में मदद भी की है। 

सैमसंग ने कहा कि वह अपने पचास हजार से अधिक कर्मचारियों को कोरोना का टीका भी लगवायेगा जिसका खर्च वह खुद उठाएगा। सैमसंग ने इस पहले अप्रैल 2020 में कोरोना के खिलाफ शुरूआती जंग में बीस करोड़ का योगदान दिया था। वही पेटीएम ने भी कहा कि उसका योगदान भी 20 करोड़ रुपये तक पहुंच गया।

पेटीएम फॉउंडेशन भी कोरोना संक्रमण के नियंत्रण में मदद करने के लिये 12 से 13 शहरों में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करेगा। ये ऑक्सीजन प्लांट सीधा अस्पतालों में स्थापित किये जायेंगे।  पेटीएम ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थापना के लिए राज्य सरकारों और अस्पतालों के साथ बातचीत कर रहा है। ये संयंत्र पेटीएम फाउंडेशन द्वारा सरकारी अस्पतालों को निशुल्क प्रदान किए जाएंगे।

पेटीएम इसके अलावा मई मध्य तक 21,000 से अधिक ऑक्सीजन कंसेंट्रेटर सरकारी अस्पतालों, कोविड देखभाल केंद्रों, निजी अस्पतालों, र्निसंग होम समेत रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशनों को भेजेगा। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के भीषण प्रकोप के कारण कई राज्यों के अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड और चिकित्सा ऑक्सीजन की भारी किल्लत हो गई है। ऑक्सीजन की कमी की वजह से कई शहरों में कई संक्रमित मरीजों की मौत भी हो गई है जिसे देखते हुये सैमसंग और पेटीएम ने ये मदद की घोषणा की है।

Related News

More Loader