भारतीय गेंदबाज Avesh Khan अभ्यास मैच में हुए चोटिल, England दौरे से हो सकते है बाहर

नयी दिल्लीः युवा तेज गेंदबाज आवेश खान डरहम में भारत के प्रथम श्रेणी अभ्यास मैच के पहले दिन काउंटी एकादश की ओर से खेलते हुए बायें अंगूठे में चोट के कारण मैच से बाहर हो गए हैं और उनका इंग्लैंड दौरे से बाहर होना भी लगभग तय है। कोविड-19 पॉजिटिव लोगों के संपर्क में आने […]

dainiksaveratimes

July 21, 2021

Sports

1 min

zeenews

नयी दिल्लीः युवा तेज गेंदबाज आवेश खान डरहम में भारत के प्रथम श्रेणी अभ्यास मैच के पहले दिन काउंटी एकादश की ओर से खेलते हुए बायें अंगूठे में चोट के कारण मैच से बाहर हो गए हैं और उनका इंग्लैंड दौरे से बाहर होना भी लगभग तय है। कोविड-19 पॉजिटिव लोगों के संपर्क में आने के बाद काउंटी एकादश के कुछ खिलाड़ियों के अनिवार्य पृथकवास पर जाने के बाद दायें हाथ के तेज गेंदबाज आवेश मेजबान टीम का प्रतिनिधित्व कर रहे थे। 

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि दौरे पर स्टैंडबाई खिलाड़ी के रूप में गए आवेश चोट के कारण लंबे समय तक बाहर हो सकते हैं और चार अगस्त से नॉटिंघम के ट्रेंटब्रिज में शुरू हो रही टेस्ट श्रृंखला से पहले भारतीय टीम प्रबंधन के पास कम से कम एक नेट गेंदबाज कम होगा। बीसीसीआई सूत्र ने कहा, ‘‘इस मैच को तो छोड़ दीजिए आवेश के इस श्रृंखला में भी आगे हिस्सा लेने की संभावना नहीं है। उसके अंगूठे में फ्रेर है। वह कम से कम एक महीने तक गेंदबाजी नहीं कर पाएगा और इसके बाद उसका रिहैबिलिटेशन शुरू होने की उम्मीद है। अगले तीन दिन में स्थिति स्पष्ट होगी।’’ 

बीसीसीआई ने बुधवार को आवेश की चोट के बारे में विस्तार से नहीं बताया था लेकिन कहा था, ‘‘तेज गेंदबाज आवेश खान मेडिकल टीम की निगरानी में रहेंगे। वह अभ्यास मैच के दूसरे और तीसरे दिन के खेल में हिस्सा नहीं ले पाएंगे।’’ मंगलवार को पहले दिन लंच के बाद के सत्र में अपने 10वें ओवर की पांचवीं गेंद पर आवेश को चोट लगी थी। वह हनुमा विहारी के शॉट को रोक रहे थे। गेंद लगने के बाद वह काफी दर्द में दिख रहे थे और तुरंत उन्हें चिकित्सा मदद की गई और डरहम के यूट्यूब चैनल पर एक कमेंटेटर को कहते हुए सुना गया कि चोट गंभीर हो सकती है। 24 साल के आवेश ने अब तक 26 प्रथम श्रेणी मैचों में 100 विकेट चटकाए हैं और कई लोगों का मानना था कि इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट श्रृंखला के दौरान उन्हें पदार्पण का मौका मिल सकता था।

Related News

More Loader