जनता की मूलभूत सुविधाओं को ध्यान रखते हुए किए जाए विकास कार्य : मोहन यादव

उज्जैन : मध्यप्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने कहा है कि विकास के कार्यों में आम जनता की मूलभूत सुविधाओं का भी विशेष ध्यान रखते हुए सुविधाओं का विकास किया जाना चाहिये। विकास कार्यों का सिलसिला निरन्तर चलते रहना चाहिये। श्री यादव ने आज यहां विभिन्न वाडरें में निर्माण कार्यों का भूमि पूजन […]

dainiksaveratimes

July 21, 2021

National

1 min

zeenews

उज्जैन : मध्यप्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने कहा है कि विकास के कार्यों में आम जनता की मूलभूत सुविधाओं का भी विशेष ध्यान रखते हुए सुविधाओं का विकास किया जाना चाहिये। विकास कार्यों का सिलसिला निरन्तर चलते रहना चाहिये। श्री यादव ने आज यहां विभिन्न वाडरें में निर्माण कार्यों का भूमि पूजन किया। इसमें वार्ड-53 में मालनवासा स्थित पानी की टंकी के पास विजय आंजना के घर के सामने 14 लाख रुपये की लागत से आरसीसी नाली निर्माण, तेजाजी मन्दिर से पंचक्रोशी मार्ग तक शक्करवासा में 2.23 लाख रुपये की लागत से आरसीसी नाला निर्माण और पुलिस लाइन स्थित नागङिारी मीडिल स्कूल के पास 18 लाख रुपये की लागत से सीसी रोड एवं नाली निर्माण कार्य का भूमि पूजन उनके द्वारा किया गया। उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि आने वाले समय में उज्जैन में विकास के मामले में पंख लगने वाले हैं। उज्जैन में उद्योगों के विकास के लिये सरकार द्वारा कई योजनाएं बनाई जायेंगी। इससे स्थानीय लोगों को रोजगार प्राप्त होगा। उन्होंने कहा कि उज्जैन के स्थानीय लोगों को प्रतिदिन किसी न किसी कार्य से देवास और इन्दौर रोड से गुजरना पड़ता है। भविष्य में इन्दौर के लिये दो नये रोड बनाये जाएंगे।
उन्होंने कहा कि उज्जैन में धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के साथ-साथ बड़े, छोटे और लघु उद्योग ग्रामोद्योग, तथा स्वास्थ्य सेवाएं भी प्रारम्भ की जायेंगी, ताकि यहां के युवाओं को रोजगार के विभिन्न अवसर मिल सकें। श्री यादव ने यहां एक अन्य कार्यक्रम में कहा कि मध्यप्रदेश सरकार गरीब और कमजोर वर्ग के साथ मुश्किल समय में खड़ी है। शासन द्वारा गरीब वर्ग के घरों में कोविड के दौरान नियमित आय नहीं होने को देखते हुए अस्थाई पात्रता पर्ची वितरण करने का निर्णय लिया गया, ताकि उनके घर में राशन की समस्या न हो। हरेक वार्ड में कार्यकर्ताओं द्वारा भी पात्र लोगों के घर-घर जाकर अस्थाई पर्चियां वितरित की जायेंगी। उन्होंने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर जब आई थी तो वह समय हम सबके लिये अत्यन्त कठिन था। सभी कर्मचारियों ने अपनी जान जोखिम में डालकर इस दौरान आमजन की सेवा की। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सभी वर्गों की तथा उनके स्वास्थ्य की चिन्ता की है।
 

Related News

More Loader