CCI ने amazon पर फ्यूचर ग्रुप यूनिट के सौदे में तथ्य छिपाने का आरोप लगाया

मुंबई : भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने एमेजॉन डॉट कॉम इंक पर फ्यूचर ग्रुप यूनिट में 2019 के निवेश के लिए मंजूरी मांगने पर तथ्यों को छिपाने और गलत दलीलें देने का आरोप लगाया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि पत्र रिलायंस इंडस्ट्रीज को अपनी खुदरा संपत्ति बेचने के भारतीय फर्म के फैसले पर […]

dainiksaveratimes

July 22, 2021

Business

1 min

zeenews

मुंबई : भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने एमेजॉन डॉट कॉम इंक पर फ्यूचर ग्रुप यूनिट में 2019 के निवेश के लिए मंजूरी मांगने पर तथ्यों को छिपाने और गलत दलीलें देने का आरोप लगाया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि पत्र रिलायंस इंडस्ट्रीज को अपनी खुदरा संपत्ति बेचने के भारतीय फर्म के फैसले पर फ्यूचर ग्रुप के साथ अमेजॉन की कड़वी कानूनी लड़ाई को जटिल बनाता है।यह मामला अब भारत के सर्वोच्च न्यायालय के समक्ष है। अमेजॉन ने तर्क दिया है कि फ्यूचर की उपहार वाउचर इकाई में 49 प्रतिशत हिस्सेदारी के लिए 19.2 करोड़ डॉलर का भुगतान करने के लिए उसके 2019 सौदे में सहमति से तय हुई शर्तो ने अपने मूल, फ्यूचर ग्रुप को अपने फ्यूचर रिटेल व्यवसाय को रिलायंस को बेचने से रोका।
वैश्विक समाचार तार ने कहा कि 4 जून को लिखे पत्र में, सीसीआई ने कहा कि अमेजॉन ने फ्यूचर रिटेल में अपनी रणनीतिक रुचि का खुलासा नहीं करके लेनदेन के तथ्यात्मक पहलुओं को छुपाया, जब उसने 2019 के सौदे के लिए मंजूरी मांगी। पत्र में कहा गया है, ‘‘आयोग के समक्ष अमेजॉन का अभ्यावेदन और आचरण गलत बयानी भौतिक तथ्यों को छिपाने के बराबर है।’’ इसने यह भी नोट किया कि फ्यूचर ग्रुप की एक शिकायत से किए गए सबमिशन की समीक्षा के लिए प्रेरित किया गया था। रिपोर्ट में कहा गया है कि चार पन्नों के पत्र में, एक तथाकथित ‘कारण बताओ नोटिस’ है। सीसीआई ने अमेजॉन से पूछा कि उसे कार्रवाई क्यों नहीं करनी चाहिए और गलत जानकारी देने के लिए कंपनी को दंडित किया जाना चाहिए। सीसीआई के 2019 के अनुमोदन आदेश में कहा गया है कि उसका निर्णय है कि किसी भी समय दी गई जानकारी के गलत होने पर उसे निरस्त माना जाएगा। फ्यूचर रिटेल के शेयरों ने रिपोर्ट के बाद छलांग लगाई, गुरुवार दोपहर के कारोबार में लाभ लगभग 5 प्रतिशत तक बढ़ गया। फ्यूचर रिटेल पर विवाद जेफ बेजोस के अमेजॉन और रिलायंस के बीच सबसे शत्रुतापूर्ण फ्लैशप्वाइंट है। फ्यूचर रिटेल में 1,500 से अधिक सुपरमार्केट और अन्य आउटलेट हैं, जिसे भारत के सबसे अमीर कारोबारी आदमी मुकेश अंबानी द्वारा चलाया जाता है।

Related Topics

Related News

More Loader