ग्वालियर के वीरपुर बांध इलाके में 11 साल के बच्चे की किडनैप कर की हत्या, शव को गड्ढे में दफना ऊपर रखे पत्थर

गिरवाई के वीरपुर बांध इलाके में रहने वाले 11 साल के बच्चे की अपहरण के बाद हत्या का मामला सामने आया है। मासूम का शव अजयपुर पहाड़ी पर मिला है। गांववाले ने शव देखकर पुलिस को सूचना दी। जांच में खुलासा हुआ कि बच्चे की पहचान न हो इसलिए अपराधियों ने उसके चेहरे को पत्थर […]

dainiksaveratimes

June 10, 2021

National

1 min

zeenews

गिरवाई के वीरपुर बांध इलाके में रहने वाले 11 साल के बच्चे की अपहरण के बाद हत्या का मामला सामने आया है। मासूम का शव अजयपुर पहाड़ी पर मिला है। गांववाले ने शव देखकर पुलिस को सूचना दी। जांच में खुलासा हुआ कि बच्चे की पहचान न हो इसलिए अपराधियों ने उसके चेहरे को पत्थर से कुचल दिया और फिर शव को पहाड़ी पर ही एक गड्ढे में दफना कर ऊपर से पत्थर रख दिया। घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस जांच पड़ताल में जुट गई है। 
वीरपुर बांध इलाके में रहने वाला राजेन्द्र उर्फ कल्याण सिंह प्राइवेट कंपनी में काम करता है। परिवार में पत्नी के अलावा दो बच्चे हैं। बड़ा बेटा 11 साल का अमित बघेल पास ही के स्कूल में कक्षा 2 का छात्र था। बुधवार दोपहर 2 बजे अमित घर से कुरकुरे लेने के लिए निकला था। इसके बाद वह वापस नहीं लौटा। देर शाम तक बच्चा वापस नहीं आया, तो परिजनों ने तलाश शुरू की, लेकिन उसका पता नहीं चला। इसके बाद उन्होंने मामले की सूचना गिरवाई थाने में दी। पुलिस ने मामले की गंभीरता को समझते हुए अपहरण का मामला दर्ज किया। पुलिस ने अपने स्तर पर पड़ताल शुरू की। लापता होने के 22 घंटे के बाद गुरुवार दोपहर 12 बजे पुलिस को गांव वाले ने सूचना दी कि अजयपुर की पहाड़ी पर गड्‌ढे में शव पड़ा है। ऊपर से भारी पत्थर रखे हैं। इस पर SP अमित सांघी, CSP लश्कर आत्माराम शर्मा, थाना प्रभारी गिरवाई सब इंस्पेक्टर रघुवीर मीणा फोर्स के साथ स्पॉट पर पहुंचे। यहां शव को निगरानी में लेकर पड़ताल शुरू की। मृतक की पहचान 11 साल के अमित के रूप में होने के बाद तत्काल फोरेंसिक एक्सपर्ट अखिलेश भार्गव को बुलाया गया।
एक्सपर्ट के मुताबिक पहले बच्चे के सिर पर पत्थर से वार किया गया है। इसके बाद उसके ऊपर कपड़े की दरी डाली गई है फिर भारी पत्थर से कुचल गया है। इसके बाद गड्‌ढे में दफनाया गया है। जिस जगह हत्या कर दफनाया गया है, वह कब्रिस्तान है। उस पहाड़ी पर आसपास और भी शव दफनाए जाते हैं, इसलिए वहां दिन और रात के समय कोई आता-जाता नहीं है। एसपी अमित सांघी के मुताबिक हत्या का कारण फिलहाल पता नहीं है। हत्या करने वाला भी अज्ञात है। पुलिस हर एंगल पर जांच कर रही है। गिरवाई थाना और क्राइम ब्रांच की टीमें जांच कर रही हैं।

Related News

More Loader